बिहार में शिक्षक बहाली के लिए मेरिट लिस्ट इस तरह से तैयार की जाती है।

बिहार में शिक्षक बहाली के लिए मेरिट लिस्ट इस तरह से तैयार की जाती है।

बिहार शिक्षक बहाली कक्षा 1 से 8 के लिए मेरिट लिस्ट इस तरह से तैयार की जाती है।

सबसे पहले कक्षा 1 से 5 के बारे में जान लेते हैं -

(i) मैट्रिक परीक्षा में प्राप्त प्राप्तांक का प्रतिशत
                             योग
(ii) इंटरमीडिएट परीक्षा में प्राप्त प्राप्तांक का प्रतिशत
                           योग
(iii) प्रशिक्षण परीक्षा में प्राप्त प्राप्तांक का प्रतिशत

उपयुक्त तीनों को जोड़कर 3 से भाग देने पर प्राप्त प्रतिशत अंक अभ्यार्थी का मेघा सूची अंक होगा।

(iv) अभ्यार्थी की मेघा अंक में शिक्षक पात्रता परीक्षा के प्राप्तांक के आधार पर निम्न प्रकार अतिरिक्त मेघा अंक जोड़े जाएंगे-
1. 90% एवं इससे ऊपर- 10 अंक
2. 80% एवं ऊपर 90% से कम  6 अंक
3.  70% एवं ऊपर 80% से कम चार अंक
4. 55% एवं ऊपर एवं 70% से कम 2 अंक
इस प्रकार शिक्षक पात्रता परीक्षा के अतिरिक्त अंक जोड़ने के बाद अभ्यर्थियों का जो कुल अंक होगा वही उसका कुल मेघा अंक होगा।

स्नातक ग्रेड के शिक्षक के नियोजन हेतु मेघा सूची।

(i) मैट्रिक परीक्षा में प्राप्त प्राप्तांक का प्रतिशत
                             योग
(ii) इंटरमीडिएट में प्राप्त प्राप्तांक का प्रतिशत
                              योग
(iii) स्नातक में प्राप्त प्राप्त तक का प्रतिशत
                              योग
(iv) प्रशिक्षण में प्राप्त प्राप्तांक का प्रतिशत
उपयुक्त चारों को जोड़कर 4 से भाग देने पर प्राप्त प्रतिशत अंक अभ्यार्थी का मेघा अंक होगा।

5. अभ्यार्थी के मेघा अंग में शिक्षक पात्रता परीक्षा के प्राप्तांक के आधार पर निम्न प्रकार अतिरिक्त मेघा अंक जोड़े जाएंगे-

1. 90% एवं ऊपर 10 अंक।
2. 80% प्रतिशत एवं ऊपर - 90% से कम - 06 अंक।
3. 70% एवं ऊपर - 80% से कम - 04 अंक।
4.  55% एवं ऊपर - 70% से कम - 02 अंक।
इस प्रकार  शिक्षक पात्रता परीक्षा के अतिरिक्त अंक जोड़ने के बाद अभ्यर्थी का जो कुल अंक होगा वही उसका कुल मेघा अंक होगा।

बीएड पास को मिले बिहार में कक्षा 1 से 5 में शिक्षक बनने का मौका।

बीएड पास को मिले बिहार में कक्षा 1 से 5 में शिक्षक बनने का मौका।

बिहार:  28 जून 2018 को एनसीटीई ने बीएड अभ्यर्थी को कक्षा 1 से 5 तक के शिक्षक बनने के लिये योग्य मान लिया लेकिन अभ्यर्थी केंद्र सरकार या राज्य सरकार द्वारा आयोजित होने वाली शिक्षक पात्रता परीक्षा की पेपर 1 पास कर लिया हो तो। बिहार में टीईटी की परीक्षा 2017 में हुई उस समय बीएड अभ्यर्थी को पेपर 1 देने की इजाजत नहीं थी इसलिए वे पेपर 2 की परीक्षा ही दे पाए। सीटेट 2018 में हुई जिसमें बीएड धारक अभ्यर्थियों को परीक्षा देने का मौका दिया गया। जिसमें बीएड अभ्यर्थियों ने कक्षा 1 से 5 की शिक्षक पात्रता परीक्षा पास कर पात्रता हासिल कर ली है। अतः बिहार के विद्यालयों में बच्चों के भविष्य एवं यहां के प्रतिभाशाली अभ्यर्थियों को ध्यान में रखते हुए सीटेट पेपर 1 की परीक्षा में पास अभ्यर्थियों मौका मिलना चाहिए।  क्योंकि एनसीटीई ने उन सभी बीएड धारक अभ्यर्थियों को प्राथमिक विद्यालय ( कक्षा 1 से 5) में शिक्षक बनने के लिये उन्हें योग्य कर दिया गया है। अतः अब बिहार सरकार को बिना किसी देरी के शिक्षक बहाली की अधिसूचना जारी करनी चाहिए।

प्रारंभिक स्कूलों में एक लाख शिक्षकों की कमी।

 आपको बता दें कि बिहार में शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया जुलाई 2019 के प्रथम सप्ताह में विज्ञप्ति होगा जारी। एक लाख 38 हजार पदों पर ये बहाली सुरु होने जा रही है ऐसे लाखों अभ्यर्थियों की बेचैनी शिक्षक बनने के लिये बढ़ रही है। बिहार के प्राथमिक विद्यालय (कक्षा 1 से 5) में शिक्षकों के सबसे ज्यादा सिटें 2 लाख खाली है ऐसे में यदि बीएड छात्रों को जिन्होंने सीटेट की परीक्षा पेपर 1 (कक्षा 1 से 5) पास कर ली है उन्हें मौका मिलना चाहिए।

CTET July 2019 Admit Card Download Click Here Ctet.Nic.In

अभ्यर्थियों का कहना है उन्हें यदि मौका राज्य सरकार नही देती तो शिक्षकों के लाखों पद प्राथमिक विद्यालय (कक्षा 1 से 5) में खाली रह जायेंगे और बिना शिक्षक के ही बच्चों को शिक्षा दी जायेगी। हालांकि इससे पहले सीटेट पास अभ्यर्थियों को बिहार में शिक्षक बनने का कक्षा 6 से 8 में मौका दिया गया था एवं सरकार की कोशिश रहेगी की जितना ज्यादा संख्या में हो सके स्कूलों में शिक्षकों की बहाली  वे कर सकते वो करेंगे।

प्रारंभिक स्कूलों में एक लाख शिक्षकों की कमी।

प्रारंभिक स्कूलों में एक लाख शिक्षकों की कमी।

प्रारंभिक स्कूलों में एक लाख शिक्षकों की कमी। 

पटना : बिहार सरकार ने प्राथमिक विद्यालय (कक्षा 1 से 8) के साथ साथ अब उच्च प्राथमिक विद्यालय (6 से 8) में भी शिक्षक बहाली शुरू करने की एक नई दिशा में बड़ा कदम उठाया है। लेकिन खाली पड़े रिक्त पदों में अधिकांश पद वर्ग 1 से लेकर के पांचवी तक के शिक्षकों के लिये हैं। इसमें शिक्षक बनने के लिये शिक्षक पात्रता परीक्षा का पेपर 1 उत्तीर्ण होना अनिवार्य होता है। बिहार में टेट के अनुसार पेपर 1 में इनकी संख्या लगभग 9 हजार है,ऐसे में फिर हजारों पद रिक्त रह सकते हैं। विज्ञापन से पूर्व सरकार को एनसीटीई के 28 जून 2018 के नए नियम के अनुसार वर्ग 1 से 5 में बीएड प्रशिक्षित उम्मीदवार को भी शिक्षक बनने का अवसर दिया गया है। अब इस नियम के बाद केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा भी हुई,इसमें बिहार के लगभग 5 से 6 हजार अभ्यर्थियों ने सफलता भी प्राप्त की थी और ये एनसीटीई जो नया गाइड लाइन जारी किया है उसके अनुसार अब ये शिक्षक बनने के लिए वर्ग 1 से 5 में योग्यता रखते है।

शिक्षा विभाग को भी अब अपने विज्ञापन में इसे स्वत संज्ञान में दे देना चाहिए ताकि प्राथमिक विद्यालय (कक्षा 1 से 5) में उसे अधिक से अधिक शिक्षक मिल सके।

प्रारंभिक स्कूलों में एक लाख शिक्षकों की कमी।

राज्य में अभी प्राथमिक से लेकर माध्यमिक तक 4 लाख 40 हजार शिक्षक है,जिसमे प्राथमिक स्कूलों में 3 लाख 19 हजार नियोजित शिक्षक और 70 हजार वेतनमान पर नियमित शिक्षक कार्यरत है। वही उच्चतर - उच्चतर माध्यमिक स्कूलों में 37 हजार नियोजित शिक्षक है जबकि 7 हजार पूर्ण वेतनमान वाले शिक्षक है।  राज्य  में 71 हजार प्रारंभिक स्कूल है जबकि छह हजार माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूल है। वर्तमान में प्रारंभिक स्कूलों में 1 लाख शिक्षकों की कमी है माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक स्कूलों में 38 हजार शिक्षकों की कमी है यानी राज्य में कुल 1 लाख 38 हजार शिक्षकों की नियुक्ति होनी है। अगले साल सभी पंचायतों में कम से कम 1 हाई स्कूल की पढ़ाई शुरू करने का लक्ष्य भी रखा गया है।

बिहार शिक्षक बहाली का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिये बुरी खबर - Bihar Sikshak Bahali 2019 Kb Hogi

बिहार शिक्षक बहाली का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिये बुरी खबर - Bihar Sikshak Bahali 2019 Kb Hogi 
बिहार शिक्षक बहाली का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिये बुरी खबर - Bihar Sikshak Bahali 2019 Kb Hogi

पटना : बिहार में शिक्षक बहाली ( Bihar Sikshak Bahali) सुरु होने का इंतजार कर रहे अभ्यर्थियों के लिये बुरी खबर है उन्हें बहाली प्रक्रिया सुरु होने को लेकर अभी और इंतजार करना पड़ेगा। बिहार (Bihar) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ( CM Nitish Kumar) ने शिक्षा विभाग के साथ बैठक कर ये फैसला लिया की अभी सिर्फ राज्य में माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में ही शिक्षकों की बहाली की जायेगी। वही प्राथमिक (Primary) एवं उच्च प्राथमिक ( Upper Primary) विद्यालय में पहले शिक्षकों का समायोजन किया जायेगा फिर जो सीटे खाली रहेगी उन सीटों पर बिहार टीईटी (Bihar TET) व सीटीईटी (CTET) उत्तीर्ण अभ्यर्थियों की बहाली की जायेगी।
क्या है असली वजह बिहार शिक्षक बहाली ( Bihar Sikshak Bahali) से जुड़े देखें!
बिहार सरकार ने वर्ष 2017 में बिहार के प्राथमिक ( Primary) एवं उच्च प्राथमिक ( Upper Primary) स्कूलों में कक्षा 1 से 8 तक में शिक्षकों की बहाली को लेकर टीईटी (TET) की परीक्षा आयोजित की थी लेकिन 2 वर्ष बीत जाने के बाद भी अभी तक शिक्षक बहाली ( Sikshak Bahali) की प्रक्रिया सुरु नहीं की गयी। बिहार टीईटी (Bihar TET) व सीटीईटी ( CTET) उत्तीर्ण अभ्यर्थियों का कहना हैं वे लोग कई बार शिक्षा मंत्री एवं कई विधयकों से मिले पर सभी ने झूठा आस्वासन दिया। दूसरे तरफ शिक्षा मंत्री कई बार अपना बयान देते आये है शिक्षकों की बहाली ( Bahali) प्रक्रिया सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court) के फैसला के ठीक 10 दिनों के अंदर की जायेगी। लेकिन अब जब सुप्रीम कोर्ट का नियोजीत शिक्षकों के समान काम समान वेतन पर फैसला आया तो सरकार का कहना है पहले स्कूलों में छात्र एवं शिक्षक का अनुपात को ठीक करना है फिर जो सीट बचेगी उन सीटों पर बहाली (Bahali) शिक्षकों की की जायेगी।

बिहार में शिक्षकों की बहाली 2019 में कब होगी-bihar sikshak bahali 2019

    बिहार में शिक्षकों की बहाली 2019 में कब होगी देखें।

                    जिला - सीतामढ़ी
बिहार में शिक्षकों की बहाली 2019 में कब होगी-bihar sikshak bahali 2019
बिहार में शिक्षक बहाली प्रक्रिया जल्द प्रारंभ हो, इस दिशा में पिछले 02 साल से BETET 2017 का रिजल्ट आने के उपरांत निरंतर प्रयास जारी है | संघर्ष करना हम सभी का कर्तव्य है जो कर भी रहे है। यह प्रयास शिक्षक बहाली प्रक्रिया पूरा होने तक जारी रहेगा। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि शिक्षा मंत्री द्वारा बार - बार यह आश्वासन दिया गया था कि समान काम समान वेतन के निर्णय के उपरांत 10 दिनों के अंदर प्राथमिक शिक्षकों के खाली पड़े 02 लाख से अधिक शिक्षकों के रिक्त पदों पर जल्द बहाली की प्रक्रिया शुरू की जाएगी लेकिन समान काम समान वेतन का फैसला आने के बाद अब सरकार द्वारा समायोजन का बहाना बनाया जा रहा है।
जो हम सभी 50,000 TET/CTET पास अभ्यार्थियों के साथ सरासर धोखा है तथा हम सभी TET उत्तीर्ण अभ्यर्थियों के जीवन से खिलवाड़ करने जैसा है। अतः हम सभी के द्वारा बहाली के द्वारा बहाली के लिए यह एक अंतिम कोशिश किया जा रहा है। सभी संघों द्वारा एक-मत और एक जुट से निर्णय लिया गया है कि 10 जून से पटना के गर्दनीबाग धरना स्थल पर शिक्षक बहाली के लिए अनिश्चितकालीन आमरण - अनशन सह भूख हड़ताल किया जाएगा।


सभी संघों एकमत से लिया गया निर्णय इस प्रकार है---

  1.  6 जून को सभी जिला में सभा (बैठक) करेंगे।* 
  2.  अधिक से अधिक लोग इस आंदोलन का हिस्सा बने ताकि सरकार को ईट का जवाब पत्थर से दिया जा सके।* 
  3.  अनिश्चितकालीन आंदोलन सह आमरण - अनशन 10 जून से लगातार बहाली प्रक्रिया शुरू होने तक जारी रहेगा ।
  4.  इसलिए सीतामढ़ी जिला TET/CTET उत्तीर्ण संघों द्वारा उपर्युक्त आदेश जो कि अलग - अलग संघों के वरिष्ठ पदाधिकारियों की तरफ से आया है,उसके पालन के लिए कर्तव्यनिष्ठ है। अतः आप सभी सदस्यगण भारी से भारी संख्या में 10 जून से होने वाले आमरण अनशन को सफल बनाने के लिए दिनांक 06 जून को सीतामढ़ी जिला मुख्यालय के श्री राधा कृष्ण गोयनका कॉलेज में दोपहर 11 बजे बैठक का आयोजन किया गया है। आप सभी से अनुरोध है कि बैठक में पहुँचकर अपनी उपस्थिति दर्ज करे तथा कुछ आर्थिक सहयोग भी प्रदान करें ताकि प्रस्तावित 10 जून से लगातार चलने वाले अनिश्चितकालीन आमरण - अनशन सह भूख हड़ताल के कार्यक्रम को सफल बनाया जा सके तथा आंदोलन हेतु अपनी भागीदारी सुनिश्चित करते हुए साथ ही साथ पटना चलने का भी सहमती प्रदान करे।                                                                                                       अतः जिले के सभी TET/CTET उत्तीर्ण साथियों से आग्रह है यदि आप सरकारी शिक्षक बनना चाहते हैं तो आप 02 घण्टा के लिये अपने सारे कार्य को छोड़ इस मीटिंग में शामिल हों और प्रस्तावित कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु रणनीति तैयार करने में हमारी मदद करें ताकि 10 जून से चलने वाले शांतिपूर्ण शक्ति - प्रदर्शन को पूर्ण रूप से सफल बनाया जा सके।*
            
स्थान:-  श्री राधाकृष्ण गोयनका कॉलेज, सीतामढ़ी*
समय:- दोपहर 11 बजे
दिनांक:- 06 जून (गुरूवार)
सम्पर्क सूत्र:-
मधुरेन्द्र कुमार - +917050863933
सन्नी कुमार
7979961109
चन्द्रशेखर कुमार
9905065815
धन्यवाद

निवेदक - सीतामढ़ी जिला TET/CTET पास अभ्यर्थी।